बेवफ़ाई

जब दिल टूटता है

96 Posts

2133 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.
blogid : 2555 postid : 1141

बहुत याद आते है....गज़ल

Posted On: 2 Apr, 2014 कविता में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

When I Miss You I Re-read Our Old Messages And Smile Like An Idiotकुछ किश्तें है गम कि जो आपके साथ मैंने बांटी थी सोचता हूँ एक बार फिर से साझा करता चलूँ..अभी तो बहुत कुछ लिखना बाकी है…थोड़े से समय कि ज़रूरत है फिर आपके सामने वो कहानी पेश करूँगा जिसको सुनकर आप ये सोचने पर जरुर मजबूर हो जायेंगे कि क्या ऐसा भी होता है…हाँ होता है आजकी इस दुनिया में हर वो चीज होती है जो नहीं होनी चाहिए….
=आकाश तिवार

कुछ किश्तें है गम कि जो आपके साथ मैंने बांटी थी सोचता हूँ एक बार फिर से साझा करता चलूँ. अभी तो बहुत कुछ लिखना बाकी है. थोड़े से समय कि ज़रूरत है फिर आपके सामने वो कहानी पेश करूँगा जिसको सुनकर आप ये सोचने पर जरुर मजबूर हो जायेंगे कि क्या ऐसा भी होता है. हाँ होता है आजकी इस दुनिया में हर वो चीज होती है जो नहीं होनी चाहिए….

=आकाश तिवारी=

हर पत्ते पर जब मै तेरा नाम लिखता था,
हर पल तेरी याद में जब मै आह भरता था,
आज भी यादों में उनकी आंसू आते है.
वो बीते हुए दिन बहुत याद आते है..


हर सवेरा जब तेरे दीदार से होता था,
हर बातों से तेरी जब प्यार होता था,
आज भी अल्फाज़ वो कानों में गूँज जाते है.
वो बीते हुए दिन बहुत याद आते है..



Aakash


र तकलीफ तेरी बाहों में दूर होती थी,
हर रात तू जब मेरे ख़्वाबों में होती थी,
आज भी आँखों से वो ख़्वाब गुजर जाते है.
वो बीते हुए दिन बहुत याद आते है..


कसम दी मुहब्बत की भूल जाओ मुझे,
सच्ची है चाहत तो छोड़ जाओ मुझे,
आज भी तेरी कसमों से “
आकाशतड़प जाते है.
वो बीते हुए दिन बहुत याद आते है..
वो बीते हुए दिन बहुत याद आते है..



आशा करता हूँ की आपको मेरी ये ग़ज़ल पसंद आई होगी.बहुत जल्द एक नयी ग़ज़ल के साथ फिर आऊंगा.

आपका


आकाश तिवारी


आप सभी से अनुरोध है की मेरी कविताओं का इस्तेमाल अपने नाम पर कभी न करे क्योंकि ये कवितायेँ सिर्फ मेरी है और रजिस्टर्ड है.

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (6 votes, average: 4.67 out of 5)
Loading ... Loading ...

41 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

abhishek shukla के द्वारा
April 13, 2014

बहुत खूब भाई…

R.Rai के द्वारा
April 13, 2014

बहुत अच्छी कविता है .

ARJUN PRJAPATI के द्वारा
April 12, 2014

हर तकलीफ उनकी बाहों में दूर होती थी, हर रात वो जब मेरे ख़्वाबों में होती थी, आज भी आँखों से वो ख़्वाब गुजर जाते है. वो बीते हुए दिन बहुत याद आते है. 

istiyak khan के द्वारा
April 9, 2014

Hello mujhe gov job chaiy

Shadab ali के द्वारा
April 8, 2014

सुंदर !हर तकलीफ उनकी बाहों में दूर होती थी, हर रात वो जब मेरे ख़्वाबों में होती थी, आज भी आँखों से वो ख़्वाब गुजर जाते है. वो बीते हुए दिन बहुत याद आते है..

    Aakash Tiwaari के द्वारा
    April 10, 2014

    अली जी, धन्यवाद

Rahul के द्वारा
April 7, 2014

akash ji aapne kisi ki yaad dila di dil ko chhu gayi aapki ghazal aisi hi post dalte rahiye thanx

    Aakash Tiwaari के द्वारा
    April 10, 2014

    राहुल जी, थैंक्स

prasoon shukla के द्वारा
April 7, 2014

bahut aachi gajl hai I like it Hume aapki aisi gajl ka intjar rahega Hume Hindi Prem geet bahut pasnd hai

    Aakash Tiwaari के द्वारा
    April 7, 2014

    प्रसून जी, प्रतिक्रिया हेतु धन्यवाद..

Ashutosh Shukla के द्वारा
April 6, 2014

वाकई एक बेहतरीन नज़्म..

    Aakash Tiwaari के द्वारा
    April 7, 2014

    आशुतोष जी, प्रतिक्रिया हेतु धन्यवाद

Nirmala Singh Gaur के द्वारा
April 3, 2014

ह्रदय स्पर्शी रचना ,भावनाओं में भीगी सुंदर अभिव्यक्ति ,बधाई आकाशजी.

    Aakash Tiwaari के द्वारा
    April 5, 2014

    निर्मला जी, प्रतिक्रिया हेतु आपका तहे दिल से शुक्रिया…

Rajesh Kumar Srivastav के द्वारा
May 27, 2013

आज भी आँखों से वो ख़्वाब गुजर जाते है. वो बीते हुए दिन बहुत याद आते है. दर्द भरी ग़ज़ल / बहुत खूब / मैंने भी एक ग़ज़ल पोस्ट किया है / प्रतिक्रिया चाहूँगा / .

    Aakash Tiwaari के द्वारा
    April 1, 2014

    श्री राजेश जी, प्रतिक्रिया हेतु आपका तहे दिल से शुक्रिया, बहुत जल्द आपकी पोस्ट पर आउंगा.

yogi sarswat के द्वारा
May 27, 2013

हर तकलीफ उनकी बाहों में दूर होती थी, हर रात वो जब मेरे ख़्वाबों में होती थी, आज भी आँखों से वो ख़्वाब गुजर जाते है. वो बीते हुए दिन बहुत याद आते है.. खूबसूरत शब्द

    Aakash Tiwaari के द्वारा
    April 1, 2014

    श्री योगी जी, प्रतिक्रिया हेतु आपका तहे दिल से शुक्रिया

sudhajaiswal के द्वारा
May 26, 2013

आकाश जी, खूबसूरत ग़ज़ल के लिए बधाई |

    Aakash Tiwaari के द्वारा
    April 1, 2014

    शुधा जी, प्रतिक्रिया हेतु आपका तहे दिल से शुक्रिया

priti के द्वारा
May 26, 2013

बहुत ही सुंदर ! और शब्द नहीं हैं …………….बधाई !

    Aakash Tiwaari के द्वारा
    April 1, 2014

    प्रीती जी, प्रतिक्रिया हेतु आपका तहे दिल से शुक्रिया

Rita Singh, 'Sarjana' के द्वारा
May 20, 2013

सुन्दर सदैव की भाँती …बधाई

    Aakash Tiwaari के द्वारा
    May 21, 2013

    रीता दीदी, कीमती समय निकलकर भाई को प्रतिक्रिया देने हेतु शुक्रिया… आकाश तिवारी

Rita Singh, 'Sarjana' के द्वारा
May 20, 2013

सुन्दर सदैव की भांति …बधाई

    Aakash Tiwaari के द्वारा
    April 1, 2014

    आदरणीया रीता जी, प्रतिक्रिया हेतु आपका तहे दिल से शुक्रिया

आर.एन. शाही के द्वारा
May 20, 2013

हमेशा की तरह मीठी चुभन वाली पंक्तियाँ आकाश जी । बधाई ।

    Aakash Tiwaari के द्वारा
    May 21, 2013

    आदरणीय श्री शाही जी, आशीर्वाद हेतु आपका धन्यवाद.. बाजपेई जी की कमी महसूस होती है..उनका कुछ हाल बताने का कष्ट करें… आकाश तिवारी

shashi bhushan के द्वारा
May 18, 2013

आदरणीय आकाश जी, सादर ! सुन्दर रचना !

    Aakash Tiwaari के द्वारा
    April 1, 2014

    श्री शशि भूषन जी, प्रतिक्रिया हेतु आपका तहे दिल से शुक्रिया

roshni के द्वारा
May 17, 2013

यादे ही रह जाती है बाकि सब तो बीत जाता है अच्छा लिखा आकाश जी आभार

    Aakash Tiwaari के द्वारा
    May 18, 2013

    रोशनी जी, बिलकुल सही कहा आपने..बहुत याद आती है….. आकाश तिवारी

    Aakash Tiwaari के द्वारा
    May 17, 2013

    बाबु जी, सराहना हेतु आपका बहुत बहुत धन्यवाद… आकाश तिवारी

ऋषभ शुक्ला के द्वारा
May 16, 2013

बहूत ही अच्छा गजल है आकाश जी , मैंने भी “Mother`s Day“ पर एक कविता लिखी है उसे पढ़िए और हमारा मार्गदर्शन कीजिये http://rushabhshukla.jagranjunction.com/?p=१३ शुक्रिया .

    Aakash Tiwaari के द्वारा
    May 16, 2013

    रिषभ जी… आपकी कविता जरुर पढेंगे.. प्रतिकिया हेतु धन्यवाद.. आकाश तिवारी

PRADEEP KUSHWAHA के द्वारा
May 16, 2013

yaad na jaaye bite दिनों की प्रिय आकाश जी भाव पूर्ण गजल हेतु बधाई

    Aakash Tiwaari के द्वारा
    May 16, 2013

    आदरणीय श्री कुशवाहा जी, प्रतिक्रिया हेतु आपका तहे दिल से शुक्रिया.. आकाश तिवारी

nishamittal के द्वारा
May 16, 2013

आपकी गजल हमेशा की तरह बेहतरीन है आकाश जी

    Aakash Tiwaari के द्वारा
    May 16, 2013

    आदरणीया निशा जी, प्रतिक्रिया हेतु आपका तहे दिल से शुक्रिया… आकाश तिवारी

    Ashutosh Shukla के द्वारा
    April 6, 2014

    बहुत खूब आकाश जी….


topic of the week



latest from jagran